कोरोना वायरस: रोजाना छुए जाने वाली जगहों के सैनिटाइजेशन से जुड़े आम मिथ


क्या आप साबुन और पानी से सब्जियां धो रहे हैं? क्या हायड्रोजन पेरॉक्साइड से सतह को साफ कर रहे हैं? भले ही आप खुद को कोरोना वायरस से बचा रहे हों लेकिन आप खतरनाक कैमिकल्स के संपर्क में आ रहे हैं, जिससे जठरांत्र संक्रमण (Gastrointestinal infection) हो सकता है. खुद को अवैज्ञानिक तरीकों के जाल में फंसने से कैसे रोकें, जानिए मेडिकल एक्सपर्ट्स क्या कहते हैं.

हर शख्स इन दिनों कोविड-19 से दूर रहने की कोशिश कर रहा है. लेकिन उन सतहों का क्या, जिन्हें हम हर रोज छूते हैं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि अगर आप खांसते हैं और सतह पर बूंदें गिर जाती हैं, जो इससे कोरोना वायरस फैल सकता है. हाउसिंग डॉट कॉम ने AIIMS भुवनेश्वर के सेंट्रल कोलफील्ड लिमिटेड और एक्स रेजीडेंस, सीनियर मेडिकल अफसर डॉ गौरव सिंह से बात की और उन्होंने कुछ टिप्स बताए.

डॉ सिंह ने कहा, ‘यह समझना जरूरी है कि कच्ची सब्जियों, दूध के पैकेट और रोजाना छुए जाने वाली जगहों को सिर्फ कोरोना वायरस की वजह से ही सैनिटाइज करना जरूरी नहीं है. कुछ लोगों ने डिटर्जेंट पाउडर और पानी से कच्ची सब्जियों को धोना शुरू कर दिया है. ऐसी तकनीकों के साथ समस्या यह है कि साबुन या डिटर्जेंट के कारण संदूषण को रोकना लगभग असंभव है. ऐसे अवैज्ञानिक तरीकों का इस्तेमाल करने से जठरांत्र संक्रमण हो सकता है.’

कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बुनियादी स्वच्छता के तरीकों का ही इस्तेमाल किया जाना चाहिए, चाहे महामारी हो या नहीं.

वायरस प्रोटीन, न्यूक्लिक एसिड, लिपिड और कार्बोहाइड्रेट के संयोजन है और इसे पनपने के लिए जीवित कोशिकाओं की जरूरत होती है. लिहाजा आपके शरीर के बाहर कोरोना वायरस ‘मृत’ समान है. यह सतह को कुछ नहीं करेगा लेकिन अगर आप दूषित सतह को छुएंगे तो यह आपको प्रभावित कर सकता है. इसलिए आपको ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है. आइए आपको बताते हैं कि डॉक्टर सिंह ने क्या सलाह दी.

कैसे कच्चे खाने और सब्जियों को सैनिटाइज करें?

वायरस खाने पर पैदा नहीं होता लेकिन कच्ची सब्जियां इसे फैलाने में मदद कर सकती हैं. क्या आप जानते हैं कि हेपेटाइटिस ए को सूखे टमाटर, सलाद और रसभरी से जोड़ा गया था? एक संक्रमित शख्स खाने को भी दूषित कर वायरस को आगे बढ़ा सकता है.

अगर सीफूड किसी संक्रमित व्यक्ति के मल के संपर्क में आता है तो आपको नुकसान भी पहुंचा सकता है. बैक्टीरिया या फंगस की तुलना में वायरस के कैमिकल ट्रीटमेंट के लिए एक उच्च प्रतिरोध है. तो आपको संदूषण को कैसे रोकना चाहिए?

-गर्म पानी या नमक मिले गर्म पानी में कच्ची सब्जियों को धोएं.

-आप पीने योग्य पानी से कई बार सब्जियों को धो सकते हैं.

-पोटेशियम परमैगनेट/हायड्रोजन पेरॉक्साइड कई घरों में इस्तेमाल किया जाता है लेकिन यह वायरस से ज्यादा बैक्टीरिया को रोकने में असरदार है.

-अगर आप कच्ची सब्जियों को साफ करने के लिए साबुन और पानी का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि सतह पर साबुन के अवशेष भी अच्छी तरह से साफ किए गए हैं. ऐसे दाग और साबुन के कणों को धोना मुश्किल है. साबुन के दाग अक्सर प्लेटों पर दिखाई देते हैं, भले ही आप उन्हें धो लें. सब्जियों को लेकर भी यही सच है. वास्तव में, सब्जियों की सतह से साबुन निकालना ज्यादा मुश्किल है.

-अब कच्चे भोजन/सलाद खाने से बचना सबसे अच्छा है. पका हुआ खाना संक्रमण के खतरे को कम करता है. सुनिश्चित करें कि भोजन ठीक से पकाया गया है. अगर आप सलाद में कच्ची सब्जियों का इस्तेमाल करते हैं, तो अधिक देखभाल के साथ इन्हें साफ करें.

-जब आप सब्जी खरीद या उन्हें संभाल रहे हैं तो हो सकता है आप दस्ताने पहनना चाहते हों. लेकिन घर आने के बाद इन दस्तानों को धो जरूर लें.

-ज्यादातर घरों में सहायक और रसोइए होते हैं, जो हर रोज हमारी मदद करते हैं. स्वच्छता को लेकर पूरी तरह से संतुष्ट होने के लिए खुद सफाई करें या फिर ऐसा करने के लिए अपने घरेलू सहायकों से कहें.

 दूध के पैकेट्स को कैसे सैनिटाइज करें?

ऐसे पैकेट्स को साफ करने के लिए गर्म पानी और साबुन सर्वश्रेष्ठ विकल्प है. पैकेट को बिना साफ किए न तो उसे फ्रिज में रखें और न ही दूध को बर्तन में डालें.

कोविड-19 से बचाव के उपाय

-अपने हाथों को नियमित तौर पर धोते रहें.

-आम तौर पर छुए जाने वाली चीजें जैसे गेट के हैंडल, टेलीफोन, मोबाइल, टीवी, रिमोट, स्विच इत्यादि को नियमित रूप से साफ/सैनिटाइज करते रहें.

-सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करें और घर के अंदर ही रहें.

-अपनी घरेलू सहायिका और जो भी घर में काम करते हैं, उन्हें कोरोना वायरस के खतरे को लेकर आगाह करें और बताएं कि बचाव के लिए वे किन बातों का ध्यान रखें.

क्या अखबारों से फैलता है कोरोना वायरस?

द वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, ‘एक संक्रमित व्यक्ति द्वारा कमर्शियल चीजों को दूषित करने की संभावना कम है और ले जाए गए पैकेज के जरिए वायरस से कोविड 19 होने का जोखिम विभिन्न परिस्थितियों और तापमान में कम हो जाता है’. जिस तरीके से न्यूजपेपर छपते और प्रोसेस्ड होते हैं, वे उससे निष्फल हो जाते हैं. यही वजह है कि अधिकतर सड़कों पर जो ठेले वाले खड़े होते हैं, वे आपको अखबारों में खाना देते हैं. लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि ये पूरी तरह सुरक्षित हैं. अगर आप चिंतित हैं तो अस्थायी तौर पर अखबार लेना बंद कर ऑनलाइन ही न्यूजपेपर पढ़ लें. प्रिंटिंग प्रेस से लेकर डिस्ट्रिब्यूशन सेंटर तक न्यूजपेपर एक बड़ी यात्रा करता है. इसलिए कुछ दिनों के लिए न्यूजपेपर को बंद करना आसान है.

करंसी नोट्स को कैसे सैनिटाइज करें?

नोटबंदी के बाद अधिकतर छोटे-बड़े व्यवसायों ने ई-पेमेंट्स का रुख कर लिया है. संक्रमण के इस दौर से कई लोग आसानी से गुजर रहे हैं और कई के लिए इसने मुश्किलें खड़ी कर दी हैं. करंसी नोट्स को कई लोग छूते हैं और ये संक्रमित हो सकते हैं.

-जितना हो सके डिजिटल पेमेंट्स को तरजीह दें.

-अगर आपको करंसी नोट्स का इस्तेमाल करना है तो उसके बाद अपने हाथों को तुरंत धो लें.

-अगर आप मार्केट में हैं, जो सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.

-अगर आपके पास सैनिटाइजर नहीं है तो अपना मुंह और नाक न छुएं.
एजेंट्स से डिलीवरी कैसे लें:

 

कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच कुरियर्स, पार्सल और डिलीवरी को सावधानीपूर्वक लेना जरूरी है. ज्यादातर कंपनियों ने ग्राहकों को जीरो टच डिलीवरी का आश्वासन दिया है.

-या तो ग्लव्ज या फिर अलग ट्रे में पैकेट को लें.

-जब भी आप किसी ऐसे  शख्स से मिलें, जो बाहर से आया है (सिर्फ डिलीवरी वाला ही नहीं) तो उससे कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.

-अगर मुमकिन हो तो पैकेट को गर्म पानी से साफ कर लें.

-अगर बॉक्स बड़ा है तो घर के बाहर या बालकनी में ही कूड़ेदान रखें और सामान निकालने के बाद तुरंत ही पैकेज को उसमें डाल दें.

– जहां तक मुमकिन हो, डिलीवरी बॉय से कहें कि सामान को गेट पर ही छोड़ दे.

-अगर छुआ है तो गेट के हैंडल को भी साफ करें.

पैक्ड फूड को कैसे संभालें?

आपमें से कई ऐसे हैं, जो बाहर से खाना ऑर्डर कर रहे हैं या फिर रेडी टू ईट पैकेट ले रहे हैं. उदाहरण के तौर पर ब्रेड के पैकेट. ऐसी चीजों को आपको कैसे संभालना चाहिए?

-कुछ मामलों में सतह को साफ करना मुमकिन नहीं होता. सामान को किसी कंटेनर या स्टोरेज बॉक्स में डालें. ब्रेड को ब्रेड बॉक्स में रखें.

-दालें और अन्य वस्तुओं को भी कंटेनर में रखें. लेकिन उसके पैकेट को पहले साबुन और पानी से धो लें.

-पैकेट के अंदर के सामान को छूने से पहले अपने हाथों को साफ करें.

-सारे खाली पैकेट्स को कूड़ेदान में डाल दें और सुनिश्चित करें कि कूड़ेदान बच्चों की पहुंच से बाहर है.

क्विक टिप्स:

-एक माइक्रोफाइबर कपड़े का इस्तेमाल करें और इसे गर्म पानी में किसी क्लीनिंग सॉल्यूशन के साथ मिलाकर गीला कर दें, ताकि दरवाजे की कुंडी, काउंटरटॉप्स, स्विचबोर्ड और अन्य ऐसी सतहों को साफ कर सकें. अगर आप चाहते हैं तो डेटॉल का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन गर्म पानी अच्छा विकल्प है.

-इलेक्ट्रॉनिक आइटम के लिए एल्कोहॉल बेस्ड सॉल्यूशन का इस्तेमाल करें. इसमें मोबाइल फोन्स, रिमोट, कीबोर्ड्स, टीवी की सतह, माइक्रोवेव अवन्स इत्यादि आते हैं.

-अगर आपके घर बाहर से कोई नहीं आ रहा है या फिर आप हर वक्त घर के अंदर ही रहते हैं तो संदूषण की ज्यादा चिंता नहीं होनी चाहिए.

सवाल-जवाब

कितनी देर तक सतह पर कोरोना वायरस रहता है?

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) गाइडलाइंस कहती हैं कि फिलहाल यह मालूम नहीं है कि सतह पर कोरोना वायरस कितने वक्त तक रहता है. डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट के मुताबिक, 'यह कुछ घंटों या कई दिनों तक सतहों पर बना रह सकता है. यह विभिन्न परिस्थितियों में अलग हो सकता है (जैसे, सतह का प्रकार, तापमान या वातावरण की आर्द्रता)'. एक साधारण कीटाणुनाशक भी वायरस से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए काफी है.

क्या हवा से भी फैलता है कोरोना वायरस?

संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने से बूंदें किसी फ्लोर या सतह पर गिर सकती हैं. आप ऐसी बूंदों या हवा में सांस लेने से संक्रमित हो सकते हैं जो कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति के एक दायरे (मीटर) के भीतर है. इसलिए कहा जाता है कि कोरोना वायरस हवा से फैलने वाली बीमारी है लेकिन तथ्यात्मक रूप से नहीं. इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है.

Was this article useful?
  • 😃 (2)
  • 😐 (0)
  • 😔 (0)

Comments

comments