ऐसे चुने अपने घर के लिए सही रंग-


थेरेपिस्ट्स (चिकित्सकों) के हिसाब से, रंगों का हमारे ऊपर मनोवैज्ञानिक और शारीरिक प्रभाव पड़ता है। उदाहरण के तौर पर, कुछ रंग ब्लड प्रेशर को बढ़ा सकते हैं, मेटाबॉलिज़्म बढ़ा सकते है या आखों में खिंचाव भी ला सकतें हैं, जबकि कई रंग हमारे ऊपर अच्छा असर करते हैं और ऊर्जा के स्तर को भी संतुलित करते हैं।      

लाल

लाल रंग प्यार, जुनून और साहस का प्रतीक है। यह एक ऐसा रंग है जो कि गर्मजोशी/उत्साह को दर्शाता है और ध्यान आकर्षित करता है। यह रंग हमरे ऊपर भावनात्मक रूप से असर करता है, इसलिए यह लिविंग रूम/बैठक कक्ष के लिए बिल्कुल सही रंग है।   

नारंगी  

मुंबई की रहने वाली, नेहल मोट्टा, ने हाल ही में अपने लिविंग रूम की मुख्य दीवार पर नारंगी रंग करवाया था क्योंकि उन्हें लगता है कि यह एक उत्साह बढ़ाने वाला रंग है। उनका मानना है कि “नारंगी रंग ज्ञान, सच्चाई और उदारता का रंग है। यह स्वस्थ्य सामाजिक वातावरण को दर्शाता है और दिमाग और शरीर में स्फूर्ति लाता है।”

A guide to choosing great colours for your home

पीला

मोट्टा ने लिविंग रूम की दूसरी दीवारों पर पीला रंग करवाया है। वे कहती हैं, “मेरे लिविंग रूम में प्राकृतिक(नेचुरल) लाइट की बहुत कमी थी। इसलिए, कमरे को चटकीला बनाने के लिए, हमने कमरे में पीले  रंग का इस्तेमाल किया है।”

A guide to choosing great colours for your home

पीला रंग दुनिया में सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले रंगों में से एक है और शहरों में छोटे घरों के लिए यह सबसे सही रंग है। यह रंग उत्साह, प्रेरणा और खुशी का प्रतीक है। सूरज की रोशनी और आध्यात्मिकता के अलावा, पीला रंग धन से भी जुड़ा होता है क्योंकि सोने का रंग भी पीला होता है।

हरा

मोट्टा जिनके बेडरूम की मुख्य दीवार गहरे हरे रंग की है, कहती हैं “हरा रंग ताज़गी और प्रचुरता को दर्शाता है। यह रंग मन को शांति देता है जिससे हमें पता चलता है कि प्रकृति हम पर असर करती है।” यह रंग एक उपचारात्मक प्रभाव डालता है और उन कमरों के लिए सही होता है जो सुख और आराम के लिए होते हैं।  

A guide to choosing great colours for your home

नीला

इंटीरियर डिज़ाइनर शीना छाबड़िया के अनुसार, नीला रंग धीरज, आराम और शांति को दर्शाता है। वे बताती हैं कि, “यह आकाश और समुद्र का रंग है और कमरा शांत और आरामदेह होने का एहसास कराता है। यह बाथरूम के लिए सही रंग है, क्योंकि यह पानी से जुड़ा हुआ है। जब इसका इस्तेमाल बेडरूम में किया जाता है, तो यह दिमाग को शांत करता है जिससे अच्छी नींद आती है।”  मेडिटेरेनियन ब्लू का शेड, कमरे की बाउंड्रीज़ को धुंधला कर देता है, जिससे कमरा अपने वास्तविक आकार से बड़ा दिखाई देता है।

A guide to choosing great colours for your home

बैंगनी

बैंगनी रंग कामुकता, जोश, गौरव,विलासिता/सुख और भावनाओं की गहराई को दर्शाता है।  

A guide to choosing great colours for your home

गुलाबी

गुलाबी रंग एक भावनात्मक रंग होता है और संवेदनशीलता और ध्यान रखने वाले स्वाभाव को दर्शाता है। इसलिए, यह बेडरूम के लिए सही रंग है, यह कमरे में शांति का एहसास देता है और उसे सजीव करता है।  A guide to choosing great colours for your home

काला और सफ़ेद

छाबड़िया कहती हैं कि, “सफेद रंग शुद्धता और कोमलता से संबंधित होता है, जबकि काला रंग नकारात्मकता और ताकत से संबंधित होता है। अगर आपको सादी सफेद दीवार पसंद नहीं है, तो,आप सफेद के अलग-अलग शेड्स चुन सकतें हैं।आप सफेद रंग के साथ गुलाबी, नीले या हरे टोन चुन सकतें हैं। इससे कमरा बड़ा और आकर्षक दिखेगा। हल्के रंग की दीवारों वाले कमरे में कॉन्ट्रास्ट लाने के लिए काले रंग का इस्तेमाल किया जा सकता है।  

A guide to choosing great colours for your home

कमरे में पेंट करवाते समय, किसी एक जगह पर न्यूट्रल रंगों सहित तीन से ज्यादा रंगों का इस्तेमाल ना करें। आपके कमरे को सूट करने वाले रंग ढूँढने के लिए बस थोड़ी सी प्लानिंग करने की ज़रुरत होती है। आख़िरकर, आप को अपने कमरे का माहौल एकदम सही चाहिए, यह आपकी भावनाओं पर ही नहीं बल्कि कमरे में आने वाले हर व्यक्ति पर भी असर करता है।

किसी बड़े कमरे को पेंट करने के सुझाव

  • चटख रंग कमरे में सकारात्मक प्रभाव लाते हैं और आसपास के वातावरण को ज़्यादा ऊर्जावान बनाते हैं। खासतौर पर, छोटे बच्चों को पीला, नारंगी और लाल जैसे चटख रंग पसंद आते है।
  • गहरे रंग एक बड़े कमरे को आरामदायक बना सकता है, जबकि हल्के रंगों के इस्तेमाल से छोटे बेडरूम भी बड़े लगते हैं।   
  • मेटैलिक रंग, जैसे गोल्ड, ब्रॉन्ज़, ग्लिटर या लाल पर्ल, सिल्वर और नीला, कमरे को एक बोल्ड लुक देतें हैं। नॉन-मेटैलिक रंग, जिन्हें  जिओमेट्रिक या ट्रेंडी पैटर्न के साथ कम ही इस्तेमाल किया जाता है, कमरे को सुंदर बनाते हैं और उसमें निखार और कलात्मकता लाते हैं।
  • लिविंग रूम जो ट्रायडिक/त्रिपदी स्कीम (उदाहरण के लिए, तीन बिल्कुल अलग रंगों का इस्तेमाल करके जैसे नीला, पीला और लाल ) से पेंट किया गया कमरा ज़्यादा जीवंत और ऊर्जावान लगता है और यौवन और ताज़गी को दर्शाता है।    

एक छोटे कमरे को पेंट कर रहे हैं? यह बातें याद रखें

  • छोटे कमरों के लिए पीला, गुलाबी और लैवेंडर रंग सबसे अच्छे होते हैं।
  • हल्के पीले रंग के साथ, हरा और पीच या गुलाबी रंग के शेड्स, और नीला और सी ग्रीन(हल्का हरा) शेड्स, हल्के होते हुए भी चटकीले होते हैं। यह रंग गर्मी कम करने साथ-साथ आराम का एहसास दिलाते हैं।
  • छोटे बेडरूम में एक दीवार को दूसरी दीवारों से अलग दिखाने के लिए उसे गहरे रंग से रंगा जा सकता है। हल्के रंग की दीवारें ज़्यादा होने से गहरे रंग की दीवार कम दिखाई देती है जिससे कमरा बड़ा लगता है।
  • आप दीवारों पर बारी-बारी से एक से रंगों की धारियों भी बना सकतें हैं। ये धारियां खड़ी या आड़ी हो सकती है और इनकी चौड़ाई तीन से इंच तक हो सकती है।
Was this article useful?
  • 😃 (0)
  • 😐 (0)
  • 😔 (0)

Comments

comments