निर्माणाधीन संपत्तियों पर कम जीएसटी दरें: जानिए क्या है सच्चाई और प्रचार में फर्क

24 फरवरी 2019 को हुई जीएसटी काउंसिल की मीटिंग में निर्माणाधीन संपत्तियों पर गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) को 12 प्रतिशत (इनपुट टैक्स क्रेडिट) से घटाकर गैर किफायती आवास पर 5 प्रतिशत कर दिया … READ FULL STORY

कर लगाना

क्या जीएसटी लागू होने से पहले बुक हुए फ्लैट्स पर यह टैक्स लागू होगा, जानिए

गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) ने पिछले सर्विस टैक्स और वैट (वैल्यू एडेड टैक्स) की जगह ले ली है, जो पहले निर्माणाधीन संपत्ति के ग्राहकों पर लगाए जाते थे। इसके अलावा बिल्डर्स को भी … READ FULL STORY

जानिए, जीएसटी के तहत घर खरीदना जनता के लिए महंगा होगा या सस्ता?

कर्जदाता अब सुविधाओं के लिए 18 प्रतिशत जीएसटी वसूलेगा, जो सर्विस टैक्स सिस्टम में 15 प्रतिशत होता था. इसलिए माना जा रहा है कि इससे होम लोन महंगा हो जाएगा. लेकिन यह उतना आसान … READ FULL STORY

पता होना चाहिए

जानिए जीएसटी में क्या है रिवर्स चार्ज मिकैनिजम और कंस्ट्रक्शन की लागत पर इसका असर

मौजूदा सर्विस टैक्स कानूनों में सर्विसेज का सप्लायर अपने क्लाइंट्स या कस्टमर्स से सर्विस टैक्स लेता है और उसे सरकार के पास जमा कराता है। लेकिन एेसे कई मामले हैं, जहां सर्विस का इस्तेमाल … READ FULL STORY

कर लगाना

किराये से होने वाली आमदनी पर जीएसटी और टीडीएस डालेंगे असर, जानिए कैसे

आयकर कानून के तहत रियल एस्टेट निवेश से मिली किराये की आय पर इनकम फ्रॉम हाउस प्रॉपर्टी के तहत टैक्स लगाया जाता है। जिन संपत्तियों को किराये पर दिया जाता है, वह वर्तमान में … READ FULL STORY

रिहायशी संपत्ति पर जीएसटी: जानिए नए टैक्स सिस्टम का प्रॉपर्टी खरीदने और उसे किराये पर देने का क्या असर होगा?

गुड्स एंड सर्विस टैक्स यानी जीएसटी को लेकर मार्केट में हर कोई बात कर रहा है. ज्यादातर लोग इस बात को लेकर उधेड़बुन में हैं कि अलग-अलग बिजनेस पर यह किस तरह का असर … READ FULL STORY

संपत्ति रुझान

जीएसटी की वजह से रेडी-टू-मूव अपार्टमेंट्स महंगे होंगे या सस्ते, पढ़िए हर जानकारी

भारतीय आवास मार्केट में एक धारणा बन गई है कि गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) सिर्फ अंडर-कंस्ट्रक्शन प्रॉपर्टीज पर ही लागू होगा और रेडी टू मूव अपार्टमेंट जीएसटी के दायरे से बाहर होंगे। लेकिन … READ FULL STORY

कर लगाना

जानिए प्रॉपर्टी की खरीद पर कब लगाया जा सकता है वैट और सर्विस टैक्स

जो प्रॉपर्टीज निर्माणाधीन चरण में हैं, उन्हीं पर सर्विस टैक्स और वैट लगाया जा सकता है। इसलिए दोनों ही टैक्स उन प्रॉपर्टीज पर नहीं लगाए जा सकते, जिन्हें बिल्डर द्वारा कंप्लीशन सर्टिफिकेट लिए जाने … READ FULL STORY